Homeराज्य >> अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस कार्यक्रम में श्रीमती लता वानखेड़े ने कहा - शक्ति स्वरूपा नारी अबला नहीं

अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस कार्यक्रम में श्रीमती लता वानखेड़े ने कहा - शक्ति स्वरूपा नारी अबला नहीं

shadow

भोपाल (नारीतंत्र) l मध्यप्रदेश राज्य महिला आयोग की अध्यक्ष  श्रीमती लता वानखेड़े ने कहा कि शक्ति स्वरूपा नारी अबला नहीं है l जो साक्षात् शक्ति का स्वरूप हो वह अबला हो भी कैसे सकती है l श्रीमती वानखेड़े ने भोपाल के रानी दुलैया मेमोरियल समूह के आयुष महाविद्धालय में अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस पर आयोजित कार्यक्रम को बतौर मुख्य अतिथि संबोधित करते हुए उक्त विचार व्यक्त किए l उन्होंने आगे कहा कि महाप्रकृति नारी ने युग का सृजन किया है l  परिवार समाज के प्रति सभी कर्तव्य का निर्वहन जीवनपर्यंत समर्पण त्याग से करने वाली नारी अबला नही है l शक्ति स्वरूपा के तेज पुंज नारी  हर अन्याय का प्रतिकार करना जानती है l जब जब नारी के संयम शक्ति को अत्याचार,  प्रताड़ना की कसौटी पर परखा जाएगा नारी आदिशक्ति बन समाज के शुम्भ निशुंभ रूपी राक्षसी शक्तियों का सर्वनाश करेगी l कार्यक्रम में विश्व आयुर्वेद परिषद के अध्यक्ष श्री गोपाल दास मेहता, खुशीलाल आयुर्वेद संस्थान के प्रमुख श्री उमेश पान्डे, रानी दुलैया आयुर्वेद कालेज के चेयरमैन श्री  हेमंत चौहान मंचासीन थे। इस अवसर पर श्रीमती ज्योति दुबे, श्रीमती राशि गर्ग, श्रीमती अनिता खेमरिया साथ थी।